जिग्नेश मेवानी की जीवनी, परिचय,हिंदी में – Biography of Jignesh Mevani , Early Life,in Hindi Article

जिग्नेश मेवानी की जीवनी, परिचय,हिंदी में – Biography of Jignesh Mevani , Early Life,in Hindi Article

जन्म – 11 दिसंबर 1982

जिग्नेश मेवानी गुजरात से  एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं।वे गुजरात विधान सभा के सदस्य के रूप में वड़गाम निर्वाचन क्षेत्र से युवा नेता हैं ।वे वकील और समाजिक कार्यकर्ता के रूप में काम करते रहे हैं ।उन्होंने भारतीय जाति में निचले तबके की जातियां और उसमें प्रताड़ित लोगों के हितों के लिए काम किया और 2016 में लोगों के दिलों में जगह कायम की ।

प्रारंभिक जीवन

जिग्नेश मेवानी अहमदाबाद में 11 दिसंबर  1982  गुजरात में पैदा हुआ ।उनके परिवारजन मिऊ गांव के मूल निवासी हैं। जो फैजाबाद जिले में आता है ।जिग्नेश ने अपनी स्कूल की शिक्षा अहमदाबाद के स्वास्तिक विद्यायल और विश्व विद्यालय माध्यमिक शाला से करी। तथा कॉलेज उनका एच के आर्ट्स कॉलेज अहमदाबाद , उन्होंने 2003 में इंग्लिश लिट्रेचर में कला स्नातक की डिग्री हासिल की।उसके बाद उन्होंने पत्रकारिता और जन संचार में डिप्लोमा किया । गुजराती पत्रिका में एक रिपोर्टर के तौर पर 2004  से  2007 तक कार्य करते रहे । डी. टी. लॉ कॉलेज ,अहमदाबाद से उन्होंने 2013 में कानून की डिग्री हासिल की ।

कैरियर
उना गांव जो गुजरात के सौरष्ट्र इलाके में आता है।वहां दलित वर्ग पर हमला होने के बाद कुछ समुह और लोगो ने दावा किया कि गुजरात में  इस मामले को लेकर कड़ा विरोध प्रदर्शन हुआ ।


बाद में दलित  अस्मिता यात्रा जो अहमदाबाद से उना तक की गई उसमे प्रमुख रूप से जिग्नेश मेवानी ने पूरी जनसमर्थन का. नेतृत्व किया ।और इसमें भाग लेने वाली जनता करीब -करीब महिलाओं सहित बीस हजार दलित समाज था । जिन्होंने अपने पारंपरिक नौकरियां और पशुओं के शव न  हटाने की प्रतिज्ञा की थी।जिग्नेश ने दलित लोगों की प्रताड़ना और उस से लड़ने और उनके उत्थान के लिए भूमि की मांग की ।

जिग्नेश मेवानी ,हार्दिक पटेल ,अल्पेश ठाकोर गुजरात के 2017 के विधानसभा चुनावों में गुजरात की राजनीति में उभरते चहरे लोगों के सामने आए और जीत हासिल कर लोगों के दिलों को जीता ।

कथित रूप से 2017 के गुजरात चुनाव में जिग्नेश ने मोदी पर राजनैतिक प्रहार करते हुए कहा कि मोदी मानसिक रूप से अब बूढ़ा हो चुका है अब उन्हें राजनीति छोड़कर रिटायर हो जाना चहिए और हिमालय के शिखर पर चले जाना चाहिए ।

जिग्नेश दलित लोगों के लिए कार्य करने वाले नेता के रूप में गुजरात विधानसभा क्षेत्र बडगाम के चुने हुए नेता हैं। और वे दलित अत्याचार लड़त समिति के संयोजक हैं।
वे समाजिक कार्यकर्ता होने के साथ साथ अंग्रेज़ी साहित्य के पढ़े लिखे बुद्धिजीवी है और पेशे से वकील और पत्रकार भी रह चुके हैं।

जिग्नेश मेवानी ने अगस्त  2016 में एक विशाल रैली का नेतृत्व और आयोजन किया और उनके साथ 20,000 दलितों ने हिस्सा लिया ।

अपनी राजनीतिक सफर में जिग्नेश , हार्दिक पटेल ,और अप्लेश ठाकोर ने 2017 विधानसभा चुनावों से शुरुआत की।
जिग्नेश ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करते हुए 2017 के चुनावों में कहा ” नरेंद्र मोदी को मानसिक रूप से एक बूढ़ा व्यक्ति बताया और कहा ” मोदी को रिटायर हो जाना चाहिए और हिमालय की चोटी पर जा कर आश्रय लेना चाहिए ।

राजनीति जीवन
बडगाम निर्वाचन क्षेत्र से , गुजरात विधान सभा चुनाव 2017 में एक स्वतंत्र उमीदवार के रूप में चुनाव मैदान में जिग्नेश उतरे और उन्हें आम आदमी पार्टी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का समर्थन था और चुनाव में जीत दर्ज करवाई ।

जिग्नेश मेवानी की वीडियो बायोग्राफी देखने के लिए क्लिक करें।

प्रिय पाठक,इस लेख से जुड़ा हुए कोई भी सुझाव या विचार आप प्रकट करना चाहते हैं तो कृपया कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें

Author: ARUN SANDHU

Blogger...I am Post Graduate in Mass Communication from Punjabi University Patiala and Blog is my Passion .....Always Helping Hands .......

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.